Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

हरदोई ,नामस्मरण चित्त शुद्धि का आधार :सुश्री गंगा बहन.

post

हरदोई ,नामस्मरण चित्त शुद्धि का आधार :सुश्री गंगा बहन


हरदोई। विनोबाजी की 126वीं जयंती के उपलक्ष्य में ग्यारह दिवसीय विनोबा विचार प्रवाह संगीति का शुभारंभ ब्रह्मविद्या मंदिर की अंतेवासी सुश्री गंगा बहन के उद्बोधन से हुआ। उन्होंने कहा कि नाम स्मरण चित्त शुद्धि का आधार है। हमारे संतों, ऋषि-मुनियों ने नाम स्मरण की महिमा को गाया है। सुश्री गंगा बहन ने कहा कि नाम स्मरण सबसे आसान है। इसके साथ स्थान, काल का बंधन नहीं है। जीवन के उद्धार के लिए परमेश्वर का कोई भी नाम लिया जा सकता है। इसमें सातत्य होना चाहिए। उन्होंने कहा कि अंतःकरण से नाम स्मरण जुड़ जाने पर ईश्वर की कृपा मिलती है। नाम स्मरण का आसान तरीका यही है कि हरेक कर्म को ईश्वर के साथ जोड़ दें। रात को जब तक नींद न आ जाए तब तक नाम स्मरण चलता रहे। इससे श्रद्धा और भक्ति को बल मिलता है।                   संगीति के उद्घाटन सत्र के द्वितीय वक्ता वरिष्ठ सर्वोदय सेवक श्री एस.एन.सुब्बाराव ने कहा कि विनोबाजी ने भूदान का इतिहास बनाया। उन्होंने अस्सी हजार किलोमीटर की पदयात्रा की। इस दौरान उन्होंने जयजगत का मंत्र दिया। आज दुनिया को इसकी बहुत जरूरत है।

संगीति के संयोजक विनोबा सेवा आश्रम के संयोजक रमेश भैया ने बताया कि संगीति का समापन 11 सितंबर को विनोबाजी के जन्मदिन पर होगा। इस दौरान ब्रह्मविद्या मंदिर की बहनें प्रवचन देंगी। संगीति का संचालन संजय राय ने किया।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner