Breaking News

ब�रेकिंग न�यूज़

सिधौली,भारत बनै गुलाम कबौ ना कहती सुनौ चिरइया : देवेंद्र कश्यप निडर.

post

सिधौली,भारत बनै गुलाम कबौ ना कहती सुनौ चिरइया : देवेंद्र कश्यप निडर


आजादी के अमृत महोत्सव में आकाशवाणी से प्रसारित कवि गोष्ठी में पढ़ी कविता


              सिधौली ( सीतापुर) / जब किसी अपने चहेते का कोई कार्यक्रम आकाशवाणी से प्रसारित हो रहा हो तो भला अमुक शुभचिंतक उस कार्यक्रम को कैसे सुनने से वंचित हो सकते हैं यही मेरे साथ भी हुआ. यह बात साहित्यकार देवेन्द्र कश्यप निडर ने अपने शुभचिन्तकों के प्रति हार्दिक आभार प्रकट करते हुए अपने गाँव अल्लीपुर में कही. उन्होंने कहा कि लोकभाषा अवधी के उन्नयन के लिए जिस तरीके से आकाशवाणी लखनऊ का प्रयास जारी है वह प्रणम्य है. इस लोकभाषा कवि गोष्ठी में बलभद्र प्रसाद दीक्षित पढ़ीस और लक्ष्मण प्रसाद मित्र की धरती सीतापुर से देवेन्द्र कश्यप निडर ने तो महाकवि घाघ की धरती गोंडा से हीरालाल सिंह मधुर और रवींद्र कुमार पाण्डेय ने प्रतिभाग लिया. सबसे पहले सुमधुर कण्ठ के धनी रवींद्र कुमार पाण्डेय ने आजादी के अमृत महोत्सव से सन्दर्भित गीत पढ़कर गोष्ठी का शानदार आगाज़ किया फिर साक्षरता गीत और बेटी के लिए अपनी प्रस्तुतियाँ दी. इसके बाद देवेन्द्र कश्यप निडर ने राष्ट्र का स्तवन करते हुए कहा कि, " यहु मुलुक बड़ा बढ़िहा दुनियम करि जोरि बन्दना किया करौ" जिसे सुन श्रोता समाज भारत माता की जय जयकार करने लगे. फिर श्री निडर ने चिरइया को भारत की जनता का प्रतिनिधि बताकर आजादी के माहात्म्य पर एक अनुपम प्रस्तुति देते हुए कहा कि, " भारत बनै गुलाम कबौ ना कहती सुनौ चिरइया" जिससे आकाशवाणी प्रेमी हर्षित हुए. सराहनीय संचालन करते हुए हीरालाल सिंह मधुर ने ग्रामीण भारत के प्राकृतिक सुषमा का सुन्दर चित्रण किया और प्रकृति की नाफरमानी से पैदा हो रहे मानवीय संकट से लोगों को आगाह भी किया. श्री मधुर की हमका अइसन भारत चाही की रचना पर लोगों ने खूब तालियाॅं बजाई.

          इस गोष्ठी का कुशल प्रबन्धन खेती किसानी कार्यक्रमों के श्रेष्ठ उदघोषक व ग्रामीण भारत के उत्थान को समर्पित डॉ सुशील राय ने किया. 


  इनबॉक्स -  देवेन्द्र कश्यप निडर को सोशल मीडिया के माध्यम से मिली सैकड़ों बधाइयाँ व शुभकामनाएँ


साहित्यकार, सामाजिक और राष्ट्रवादी चिंतक देवेन्द्र कश्यप निडर को सीधे संवाद के साथ साथ उनके शुभचिंतकों ने सोशल मीडिया के माध्यम से ढ़ेरों बधाई सन्देश भेजे हैं . इसमें प्रमुख रूप से अवध भारती संस्थान हैदरगढ़ बाराबंकी के अध्यक्ष और अवध जयोति के सम्पादक डा रामबहादुर मिसिर, प्राथमिक शिक्षक संघ के वरिष्ठ पदाधिकारी संदीप यादव, दिनेश मिश्र, शिक्षाविद आर डी वर्मा, मूलचन्द भार्गव, कमलेश गौतम, तिलक सिंह निषाद, संजय अवधी, सुरेश सौरभ, विशाल सिंह, सोबरन कनौजिया, राजेश कश्यप, मो जावेद, नीतू गुप्ता, सावित्री सिंह, दुलारी देबी सहित अन्य शामिल हैं सभी ने इनके उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएँ दी हैं.

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner