Breaking News

ब�रेकिंग न�यूज़

इटावा,कुपोषण छोड़ पोषण की ओर, थामें क्षेत्रीय भोजन की डोर.

post

इटावा,कुपोषण छोड़ पोषण की ओर, थामें क्षेत्रीय भोजन की डोर


राष्ट्रीय पोषण माह व संभव अभियान के समापन पर अन्नप्राशन व गोदभराई का हुआ कार्यक्रम

इटावा, 1 अक्टूबर 2021।

जनपद में  कुपोषण छोड़ चले पोषण की ओर,थामें क्षेत्रीय भोजन की डोर की थीम पर पोषण माह मनाया गया । राष्ट्रीय पोषण माह व संभव अभियान के समापन पर प्रेरणा सभागार में अन्नप्राशन और गोद भराई कार्यक्रम का आयोजन हुआ । मुख्य अतिथि सदर विधायक  सरिता भदौरिया ने लाभार्थी गर्भवती व छह  माह से अधिक के शिशुओं का अन्नप्राशन   कराया । इस अवसर पर सदर विधायक ने कहा - कुपोषण की जंग में आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की भूमिका बड़ी ही सराहनीय है। उन्होंने बताया गर्भावस्था में गर्भस्थ शिशु की देखभाल हो या नौनिहालों के पोषण की जिम्मेदारी सभी स्तरों पर क्षेत्रों में आंगनवाड़ी द्वारा पोषण संबंधी जानकारियां दी जा रही हैं। अन्नप्राशन व गोदभराई   कार्यक्रमों के द्वारा पोषण के महत्व के प्रति जागरूकता व प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। 

जिलाधिकारी श्रुति सिंह ने कहा - जनपद में गांव व शहर में पोषाहार व पौष्टिक आहार के संदर्भ में आंगनबाडी कार्यकर्ताओं द्वारा स्थानीय भोजन को रुचिकर बनाने के तरीकों का  विभिन्न स्टालों में जो प्रदर्शन किया गया वह बहुत ही रचनात्मक प्रस्तुति है। इस तरह आंगनवाड़ी कार्यकर्त्ता पौष्टिक आहार व पोषण के संदर्भ में लोगों को जागरूकता प्रदान करेगी। उन्होंने कहा - संतुलित भोजन और पौष्टिक भोजन गर्भवती के लिए जानना आवश्यक है जिससे वह स्वयं स्वस्थ रहें और गर्भस्थ शिशु को भी पूरा पोषण मिले।

जिला कार्यक्रम अधिकारी (डीपीओ) प्रशांत कुमार ने बताया - जनपद में 1564 आंगनवाड़ी केंद्र संचालित हैं,  जिनके माध्यम से गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाली महिलाओं व बच्चों के लिए स्वास्थ्य व पोषण पर विभिन्न कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। संभव अभियान और पोषण अभियान में आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता अपनी भूमिका निभा रही हैं। शून्य से पांच  वर्ष के बच्चों की वजन और लंबाई/ऊंचाई लेकर उनके स्वास्थ्य की श्रेणी निर्धारित कर गंभीर रूप से कुपोषित बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण करा कर आवश्यकता अनुसार उन्हें समय-समय पर सलाह दी जा रही है।

डीपीओ ने बताया - पोषण माह के दौरान आंगनवाड़ी केंद्रों द्वारा विभिन्न शासकीय भवनों की भूमि को चिन्हित कर 44  पोषण वाटिका लगाने का कार्य विभिन्न विभागों से समन्वय स्थापित कर किया जा रहा है। वजन दिवस पर प्रत्येक माह के प्रथम मंगलवार को बच्चों का नियमित रूप से स्वास्थ्य परीक्षण भी कराया जा रहा है।

इस कार्यक्रम में आईसीडीएस विभाग में बेहतर प्रदर्शन के लिए तीन सीडीपीओ, तीन मुख्य सेविकाओं सहित 14 विभागीय लोगों को प्रशस्ति पत्र दिया गया। तीन रेसिपी स्टाल  को पुरस्कृत भी किया गया। कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी, जिला पूर्ति अधिकारी सीमा त्रिपाठी, परियोजना निदेशक जयकेश त्रिपाठी, प्रोबेशन अधिकारी सूरज सिंह की उपस्थित रहे  और मंच संचालन महिला कल्याण विभाग की निहारिका शुक्ला द्वारा किया गया।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner