Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

वाराणसी,पीएम के संसदीय क्षेत्र में सरकारी दावे महज काग़ज़ी है, मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं कई गाँव.

post

वाराणसी,पीएम के संसदीय क्षेत्र में सरकारी दावे महज काग़ज़ी है, मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं कई गाँव


-आज़ादी के सात दशक बाद भी सरकारी सुविधाओं से वंचित हैं जरूरतमंद: राजकुमार गुप्ता,


- 26  नवम्बर संविधान दिवस पर ‘संविधान शक्ति युग’ मनाकर आंदोलन की तैयारी,


वाराणसी: राजातालाब (11/11/2021) ज़िले में विकास की दावों की पोल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र के आराजी लाईन विकास खंड के बीरभानपुर, मेहदीगंज, कचनार आदि गाँव की बदहाल स्थिति खोल रही हैं। आलम यह है कि आज़ादी के सात दशक बीत जाने के बाद भी इस गाँव के ज़रूरतमंद मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं, दलित फ़ाउंडेशन से जुड़े सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार गुप्ता ने गुरुवार को क्षेत्र के उक्त गाँवों का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया वंचित और अल्पसंख्यक समुदाय की वर्तमान स्थिति पर चिंता प्रकट करते हुए, सरकार से उन्हें मिलने वाली सुविधाओं के लिए माँग की गई है। कहाँ कि सरकार के दावे महज़ काग़ज़ी भर हैं असल ज़िंदगी से कोई सरोकार नहीं है। तहसील और ब्लाक मुख्यालय से महज कुछ दूरी पर स्थित कई गाँव आज भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं।

पहल नहीं हुई तो 26 नवम्बर संविधान दिवस पर इन गाँवों में दीप प्रज्वलित कर ‘संविधान शक्ति युग’ मनाकर इनके संवैधानिक अधिकारों के लिए आंदोलन की शुरुआत किया जाएगा और प्रभावित गाँवों की रिपोर्ट तैयार कर मानवाधिकार, एससी/एसटी, अल्पसंख्यक आयोग सहित इलाहाबाद हाईकोर्ट के सीजेआई को भेजा जाएगा। ग्रामीणों की मानें तो उन्होंने ग्राम पंचायत से लेकर बीडीओ, एसडीएम और कलेक्टर तक अपनी समस्या मूलभूत सुविधाओं की पूर्ति के लिए कई बार प्रार्थना पत्र दिया लेकिन आज तक कोई सुध लेने वाला नहीं है ग्रामीणों का आरोप है कि चुनाव में नेता वोट माँगने आते हैं और झूठे वादा करके चले जाते हैं। बाबु अली साबरी ने बताया कि सरकार द्वारा हजारों रुपए खर्च कर सर्वे करवाया जाता है ताकि गरीब जरूरतमंद लोगों को सरकारी सुविधाओं का लाभ दिया जा सके, परंतु यह मात्र दिखावा साबित हो रहा है। कहा कि निरंकुश और निष्क्रिय जन प्रतिनिधियों के कारण पिछले दस वर्षों से क्षेत्र में कोई विकास कार्य नहीं करवाया जा रहा और न ही लोगों की परेशनियों संबंधी हालचाल पूछने कोई नेता आया। जिसके कारण आने वाले विधानसभा चुनावों के परिणाम घातक सिद्व हो सकते है।प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र होने और कुछ किलोमीटर की दूरी पर सांसद आदर्श गाँव नागेपुर और जयापुर गाँव होने के बावजूद भी स्थिति गंभीर है। राजकुमार गुप्ता ने कहा कि प्रभावित सभी गाँवों में ‘संविधान शक्ति युग’ मनाने के मद्देनजर बैठक की जायेगा

राजकुमार गुप्ता,

वाराणसी

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner