Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

अटरिया,नाबालिग चला रहे सवारी वाहन, बढ़ रही दुर्घटनाएं.

post

अटरिया,नाबालिग चला रहे सवारी वाहन, बढ़ रही दुर्घटनाएं


अटरिया सीतापुर जनपद कोतवाली क्षेत्र के अटरिया नील गांव रोड सहित अन्य सड़कों पर नाबालिक सवारी वाहन चालक बन रहे हादसों का सबब स्थानीय पुलिस कर रही अनदेखी बताते चलें सीतापुर सिधौली के अटरिया के मार्गो पर बेरोकटोक नाबालिक टैक्सी चालक लोगों की जिंदगियों से कर रहे खिलवाड़ शहर की सड़कों पर वाहन चलाना अब खतरों से खाली नहीं है। सड़क पर   नाबालिक द्वारा चलाए जाने वाले सवारी वाहनों की संख्या दिनों दिन बढ़ती जा रही है। यातायात विभाग की अनदेखी से पालक भी बच्चों को सवारी वाहन की चाबी देने में जरा सी भी संजीदगी नहीं दिखा रहे। वहीं सवारी वाहन में निर्धारित यात्रियों से अधिक लोग भी धड़ल्ले से बैठाकर यातायात नियमों को ठेंगा दिखा रहे हैं।

क्षेत्र में हादसों के बढ़ने का एक कारण है शहर की विभिन्न सड़कोंं पर नाबालिग द्वारा वाहन चलाया जाना भी है। नियम कायदों की जानकारी नहीं होने से ये अपनी जान खतरे में डालते रहे ही हैं, और सामने वाले के लिए भी परेशानी का सबब बनते जा रहे हैं। इनके पास वाहन चलाने का लाइसेंस नहीं है, फिर भी  पुलिस इन पर कार्रवाई करने पर कोताही बरत रही।

नाबालिग वाहन चालकों पर अक्सर कार्यवाही की जाती है। इसमें माता-पिता की भी विशेष भूमिका होती है कि वो अपने बच्चों को तय उम्र से पहले वाहन की चाबियां ना पकड़ाए और नाबालिग चालक अपनी और दूसरों की जान से खिलवाड़ ना करे। यातायात सप्ताह के दौरान अभिभावकों से इस संबंध में बात की जाती है उन्हें समझाया भी जाता है कि बच्चों पर विशेष रूप से ध्यान दे। वे उत्सुकता में वाहन लेकर शहर की सड़कों पर दौड़ने लगते है और खतरों को आमंत्रित करते है।

एक ओर क्षेत्र के आलाधिकारी दुर्घटनाओं को रोकने के लिये नियमित जांच की बात करते हैं लेकिन क्षेत्र की सड़कों में जिस प्रकार नाबालिग वाहन चलाकर फर्राटा भरते हैं उसे रोकने कोई ठोस पहल नही की जा रही। यही वजह है कि बिना लायसेंस के भी ऐसे नाबालिगों को भी सड़क पर वाहन चलाते देखा जा सकता है। वहीं कुछ वाहन चालक वाहन चलाते समय मोबाईल कान में लगाकर एक हाथ से ही गाड़ी चलाते हैं जो कभी भी बड़ी दुर्घटना का सबब बन सकता है।

इस संबंध में लोगों का कहना है कि यातायात विभाग को चाहिये कि वह समय समय पर ऐसे कैंप लगाये जिसमें बालिग वाहन चालकों के लिये लायसेंस बनाने की सुविधा हो साथ ही सुरक्षा के लिहाज से  लाइसेंश धारको द्वारा वाहन चलाना भी सुनिश्चित किया जाये ताकि सड़कों पर बढ़ रहे दुर्घटनाओं को रोका जा सके। इसके अलावा अभिभावकों को भी चाहिये कि वे अपने नाबालिग बच्चों को वाहन चलाने के लिये कतई न दें जिससे सड़कों पर बढ़ रही दुर्घटनाओं पर रोक लगाई जा सके।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner