Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

वाराणसी,आशा ट्रस्ट ने करसड़ा के उजाड़े गए बेघर मुसहरों को कम्बल वितरण कर सर्दी से राहत देने का किया प्रयास .

post

वाराणसी,आशा ट्रस्ट ने करसड़ा के उजाड़े गए बेघर मुसहरों को कम्बल वितरण कर सर्दी से राहत देने का किया प्रयास 


वाराणसी, रोहनियां (13/11/2021) : आज से दो पखवाड़े पूर्व उजाड़े गए करसड़ा गाँव के बेघर हुए 13 मुसहर परिवारों के लिए सर्दी की रातें बहुत भारी पड़ रही हैं। उन्हे तलाश थी ऐसे मसीहा की जो आकर उनको इस मुसीबत से बचा सके। इनके 60 से अधिक सदस्यों को ठिठुरते हुए रात गुजारनी पड़ रहीं हैं यह सर्दी की रातों में खुले आसमान के नीचे कांपते रहते हैं। हालांकि ऐसे कई लोग हैं जो गरीबों की पीड़ा को समझते हुए नेक कार्य के लिए आगे आए हैं और गर्म कपड़े, कंबल आदि का वितरण कर लोगों को मानव सेवा के लिए प्रेरित करते हैं। दलित फ़ाउंडेशन से जुड़े सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार गुप्ता ने बताया कि, यहाँ के मुसहरों के आशियाने को तहसील प्रशासन द्वारा गैर क़ानूनी तरीक़े से बुल्डोजर लगा कर उजाड़े हुए आज पूरे 16 दिन हो गए हैं पीड़ित खुले आसमान के नीचे रहने को मजबूर हैं उनके लिए सर्दी का मौसम काफी कष्टप्रद होता जा रहा है। बड़े बूढ़े बच्चे लगातार बीमार हो रहे हैं सर्दी में उनके लिए भारी मुसीबत बनती जा रही है। ठंड में बिना छत के उनको रातें गुजारनी पड़ रही हैं। ठिठुरते हुए वह किसी तरह से रात व्यतीत कर रहे हैं। हालांकि दिन में भी उनको परेशानी होती है लेकिन धूप निकलने पर कुछ राहत मिल जा रहा है। इस स्थिति में गरीब लोग किसी ऐसे मसीहा की राह देख रहे हैं जो उनको गर्म कपड़े और कंबल आदि का वितरण करे। समाज में कई लोग ऐसे हैं जो गरीबों की पीड़ा को समझते हैं और उनकी मदद के लिए आगे भी आते हैं। उनका यह कार्य समाज को प्रेरणा देने वाला होता है। इनकी मदद के लिए सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार गुप्ता लोगों से अपील कर रहे है, आशा ट्रस्ट से जुड़े कार्यकर्ताओं ने मिशाल पेश करते हुए शनिवार को करसड़ा मुसहर बस्ती में जाकर खुले आसमान के नीचे रातें गुज़ार रहे पीड़ित 30 लोगों को कम्बल वितरित किये। इसके अलावा भी समाज में तमाम लोग हैं जो गरीबों के लिए कुछ करने का जज्बा रखते हैं। समस्याओं से जूझ रहे मुसहर परिवारों को दवा, भोजन, खाद्यान्न सामग्री सामाजिक संगठन लगातार मुहैया करा रहे हैं वहीं कम्बल मिलने से कुछ राहत मिली है। ऐसा पीड़ितों का कहना है। इसलिए उन्होंने आशा ट्रस्ट और राजकुमार गुप्ता के प्रति आभार भी जताया और कहा कि इनका काम बेहतर हैं। इस तरह के कार्यक्रम से हम गरीब व वंचितो को थोड़ी सहूलियत मिलती हैं। इस अवसर पर राजकुमार गुप्ता, योगीराज सिंह पटेल, महेंद्र राठौर, अनिल कुमार, बीरभद्र सिंह, राजेश कुमार, राहुल कुमार, धर्मू कुमार, बुद्धु राम, सदानंद, विजय, शंकर आदि लोग उपस्थित रहे।

राजकुमार गुप्ता,

वाराणसी

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner