Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

अटरिया,आंतक मचाने नफर अभियुक्तों को अटरिया पुलिस द्वारा दबोचा.

post

अटरिया,आंतक मचाने नफर अभियुक्तों को अटरिया पुलिस द्वारा दबोचा


अटरिया पुलिस द्वारा छः अपराधियों को भेजा सलाखों के पीछे

रिपोर्ट, ज्ञानेन्द्र मिश्रा

जनपद सीतापुर के कोतवाली सिधौली के थाना अटरिया पुलिस द्वारा बीते तीसरे दिन रात को हुई बमबारी व फायरिंग में संलिप्त अपराधियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है अपराध में संलिप्त अभियुक्त के पास से बरामद एक अदद देशी तमंचा 312 बोर व 02 अदद जिंदा कारतूस 312 बोर व एक अदद तमंचा 315 बोर व 01 अदद जिंदा कारतूस 315 बोर व दो अदद हथगोला व  एक अदद बोलेरो के साथ 06 नफर अभियुक्त गिरफ्तार किया गया था बीते दिनों में गोलाबारी में चार अभियुक्त को जान से मारने के लिए आधी रात को पुलिस का रूप धारण कर घर में घुस कर निहत्थे व सो रहे लोगों पर आक्रमण किया था जिसमें चार लोग घायल हुए थे जिसमें दो व्यक्तियों की जांघ में गोलियां लगी थीं जिसकी हालत नाज़ुक बन गई थी परन्तु अब हालात ठीक बताई जा रही है जिसके अंतर्गत थाना अटरिया पुलिस के अथक प्रयास द्वारा अपराधियों को पकड़ कर उचित अभियोग दर्ज कर जेल भेज दिया गया है पुलिस अधीक्षक सीतापुर के आदेश के क्रम में वांछित जिलाबदर अभियुक्त तथा अपराध एवं अधिकारियों की रोकथाम एवं नियंत्रण एवं वाहन चेकिंग व संदिग्ध व्यक्ति/ अवैध शस्त्र की चेकिंग के क्रम में अपर पुलिस अधीक्षक दक्षिणी व क्षेत्राधिकारी सिधौली के तत्वावधान में प्रभारी निरीक्षक द्वारा टीम गठित करके संयुक्त रूप से विशेष अभियान चलाकर योजनाबद्ध रूप से उप निरीक्षक अजय कुमार पाण्डेय,का0 केदार सिंह,का0 रंजीत सिंह,का0 विजय चौधरी,मा0का0 चित्रा दूबे म0का0 अनन्या पाठक, के द्वारा क्षेत्र भ्रमण के दौरान रेलवे क्रासिंग के पास ग्राम अटरिया से एक अदद देशी तमंचा 312 बोर व 02 अदद जिंदा कारतूस 312 बोर व एक अदद तमंचा 315 बोर व एक अदद जिंदा कारतूस 315 बोर व 02 अदद हथगोला व एक अदद बोलेरो के साथ 05 नफर अभियुक्त गण 1- पंकज कुमार पुत्र श्यामलाल 2- रोहित कुमार पुत्र रामखेलावन 3-वीरेंद्र पुत्र शिवचरन 4- दिलीप कुमार पुत्र कन्हैयालाल सर्व निवासी गण ग्राम लौकीपुर थाना रामपुर कला जनपद सीतापुर, 5- राजेश उर्फ मिंटू पुत्र जसकरन निवासी ग्राम भिठौरा थाना सिधौली सीतापुर  6- अजय यादव पुत्र सुरेन्द्र सिंह निवासी ग्राम दासापुर थाना मानपुर जनपद सीतापुर।  द्वारा गिरोह को पकड़ कर जेल भेज दिया गया पूरे मामले का प्रक्रण प्रेम विवाह को लेकर हुआ था प्रेम विवाह में लङकी के भाई सहित परिवार की सहमति नहीं थी बिना परिवार के रजामंदी से की थी शादी शादी के करीब डेढ़ साल बाद बारदात का दिया अंजाम जिससे घंटों चली थी फायरिंग और हथगोले के बीच हुआ था खूनी महायुद्ध  जिसमें कयी लोगों की जान जोखिम में पड़ गयी बारदात में एक आदमी खाश तौर पर खोखले बीनने पर था ।