Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

हरदोई,एटीएम व बैंकों की सुरक्षा व्यवस्था मजबूत करने की बनाई रूपरेखा.

post

हरदोई,एटीएम व बैंकों की सुरक्षा व्यवस्था मजबूत करने की बनाई रूपरेखा


कस्बे के एटीएम बूथों  पर गार्डों  की तैनाती न होने पर कोतवाल डीके सिंह ने बैंक प्रबंधकों से जताई नाराजगी


भारतीय स्टेट बैंक , बैंक ऑफ इंडिया ,इंडियन बैंक एटीएम बिना गार्ड के चल रहे हैं राम सहारे


हरदोई।एटीएम व बैंकों की की सुरक्षा को लेकर पुलिस ने गंभीरता दिखाई है। पुलिस अधीक्षक हरदोई राजेश द्विवेदी के निर्देश पर पिहानी कोतवाल डीके सिंह ने भारतीय स्टेट बैंक ,आर्यावर्त ग्रामीण बैंक, बैंक ऑफ इंडिया टडौर शाखा ,बैंक आफ इंडिया कटरा बाजार समेत ग्रामीण क्षेत्र के बैंक प्रबंधकों के साथ बैठक कर सुरक्षा के गुण बताए। इसके साथ कोतवाल डीके सिंह ने हलका इंचार्ज  व बीट के  सिपाही  को निर्देश दिया कि वह  अपने क्षेत्र में पड़ने वाले बैंक प्रबंधकों के साथ बैठक कर सुरक्षा की रूपरेखा तैयार करें। सभी प्रबंधकों को बैंक परिसर में सीसीटीवी बेहतर जगह पर लगाने के निर्देश दिए गए। कस्बे के बूथों पर गार्डों की तैनाती न होने पर कोतवाल डीके सिंह ने बैंक कर्मियों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि अपने अपने एटीएम बूथ पर एक गार्ड की नियुक्ति सुनिश्चित करें।

एटीएम व बैंकों की की सुरक्षा को लेकर पुलिस ने गंभीरता दिखाई है। बैंक प्रबंधकों को हिदायत दी गई है कि वे स्वयं या अन्य स्टाफ के द्वारा सीसीटीवी के दृश्यों की निगरानी रखें। कैश काउंटर व लोगों की गतिविधियों को रिकार्ड करने वाले फुटेज को अपने कंप्यूटर स्क्रीन पर जूम करके रखें, ताकि संदिग्ध लोगों की गतिविधियों पर नजर रखी जा सके। अक्सर देखा गया है कि ठगी करने वाले लोग बैंक में आकर बैठ जाते हैं और लोगों से पैसे हड़पने की फिराक में रहते हैं। कुछ भोले और कम पढ़े लिखे लोगों को मदद करने के नाम पर ठग अपना शिकार बनाते है।


कई बार बैंककर्मी पैसे जमा करने आए व्यक्ति को एटीएम में पैसा जमा कराने भेज देते हैं। अपने शिकार की तलाश में बैंक में मौजूद कुछ ठग ऐसे व्यक्तियों को पैसा जमा कराने की मदद के नाम उनके साथ हो लेते हैं और एटीएम में पैसा व्यक्ति के खाते में जमा न करके अपने खातों में जमा कर लेते हैं और भोले लोगों को अपने ठगी का शिकार बना लेते हैं। बैंक में उपस्थित ठग मशीन में पैसे जमा करने वाले व्यक्तियों को बीच रास्ते में ही अपने जाल में फंसा लेते हैं।  वारदात से बचने के लिए कहा कि आप लोगो को मशीन में पैसे जमा करने के लिए भेजते समय गार्ड को बुलाकर उनके साथ भेजें, ताकि किसी के साथ इस तरह की वारदात न हो सके। बैंक प्रबंधक बैंक के अंदर अपने ग्राहकों की पैसे की सुरक्षा को सुनिश्चित करें और गार्डों को समय-समय पर ब्रीफ करते रहे कि बैंक में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति पर निगरानी रखें। अगर कोई व्यक्ति बैंक में बिना कारण घूमता दिखाई दे तो उसे बैंक में आने का कारण पूछे। अगर वह उचित कारण नहीं बता पाता है तो थाना पुलिस को सूचित करे। उस व्यक्ति को पुलिस के हवाले करें।


कैमरे की रिकार्डिग 45 दिन तक रखें सुरक्षित


कोतवाल डीके सिंह ने मौजूद पुलिस कर्मियों से कहा कि अपने-अपने चौकी क्षेत्र में आने वाली बैंकों के मैनेजरों से मीटिग कर बैंक में लगे सीसीटीवी, लाकर, टेलीफोन एवं सुरक्षा गार्डों की जानकारी ले। सभी से सीसीटीवी कैमरों की रिकार्डिग 45 दिन तक अपने पास रखने को कहे। सभी एटीएम और बैंक गेट पर सुरक्षा गार्ड रखने के निर्देश दिए। कोतवाल ने  प्रबंधकों से कहा बैंक के लाकर एवं टेलीफोन सुचारू रुप से काम करने चाहिए।  बैंक प्रबंधकों को बताया की बैंक में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की तलाशी लें। कोई हथियार के साथ बैंक में प्रवेश न करे। बैंक में प्रवेश के समय प्रत्येक व्यक्ति मास्क हटाकर प्रवेश करे फिर मास्क लगाए ताकि सीसीटीवी में उसकी पूर्ण फोटो आ सके। बैंक के गार्ड के पास हथियार डिटेक्टर मशीन होनी चाहिए। प्रत्येक बैंक में इमरजेंसी अलार्म होना चाहिए, ताकि जरूरत पड़ने पर उसका प्रयोग किया जा सके। प्रत्येक बैंक कर्मचारियों के पास पुलिस कंट्रोल रूम नंबर-112 और एसएचओ और थाना का नंबर होना चाहिए।


एटीएम पर गार्ड हो


कोतवाल डीके सिंह ने प्रबंधकों की बैठक में कहा कि किसी भी एटीएम  बूथ पर कोई गार्ड मौजूद नहीं रहता है। कस्बे के सभी एटीएम राम सहारे चल रहे हैं। वह बात अलग है कि सभी की तैनाती कागजों पर है परंतु हकीकत में कोई भी गार्ड एटीएम बूथ पर नहीं मिलता है।  एटीएम पर एक समय में एक व्यक्ति होना चाहिए। सीसीटीवी नाइट विजन अच्छी क्वालिटी के होने चाहिए। बैंक प्रबंधक, बैंक की मुख्य जगह नोटिस बोर्ड पर पुलिस कंट्रोल व नजदीकी चौकी या कोतवालीऔर साइबर फ्राड के संबंध में 1930 नंबर पर डिस्प्ले करना सुनिश्चित करें। इस मौके पर बैंक ऑफ इंडिया टडौर , बैंक ऑफ इंडिया कटरा बाजार, भारतीय स्टेट बैंक ,आर्यावर्त ग्रामीण बैंक के प्रबंधक समेत ग्रामीण क्षेत्र के भी बैंक कर्मी मौजूद रहे।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner