Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

वाराणसी,मुझे मेरे प्यार से मिला दो, गुहार लेकर एसडीएम दफ़्तर पहुंचा प्रेमी,.

post

वाराणसी,मुझे मेरे प्यार से मिला दो, गुहार लेकर एसडीएम दफ़्तर पहुंचा प्रेमी,


जुदाई से परेशान युवक ने प्रेमिका से मिलवाने और उसे घर वालों की कैद से आजाद करने के लिए एसडीएम, सीओ और थानाध्यक्ष से गुहार लगाई है

 

वाराणसी: राजातालाब, कहते है कि प्यार कोई करता नहीं है, हो जाता है। इश्क़ में मशगूल लोगों का तो यह भी कहना है कि एक बार जो प्रेम का रंग चढ़ा तो उतरना मुश्किल है, अपने साथी की जुदाई सहना उससे कठिन है। ऐसे ही प्यार को बयां करने वाला एक ताजा मामला सामने आया है। यहां जुदाई से परेशान युवक ने प्रेमिका से मिलवाने और उसे घर वालों की कैद से आजाद करने के लिए एसडीएम राजातालाब, ग्रामीण पुलिस अधीक्षक, ग्रामीण क्षेत्राधिकारी सदर और थानाध्यक्ष राजातालाब से गुहार लगाई है।

बताते चले कि यह मामला उत्तर प्रदेश के वाराणसी ज़िले के राजातालाब का है। क्षेत्र में हर किसी की जुबां पर इसी कहानी की चर्चा है। हुआ यूं कि कचनार गाँव निवासी युवक—युवती लंबे समय से प्रेम बंधन में बंधे हुए थे। दोनों साथ ही जीवन बिताना चाहते थे। लड़की के परिजन दोनों के रिश्ते से नाखुश थे। जिसके चलते प्रेमी युगल छ: माह पहले घर से भागकर मंदिर मे जाकर अपनी शादी कर ग़ाज़ीपुर के नंदगंज में किराए के मकान मे रहने लगे थे।


जिसकी भनक लगने पर लड़की के परिजनों ने दोनों को दो माह पहले नंदगंज जाकर पकड़ लिया और दोनों को अलग-अलग रहने की चेतावनी दिया, परिजनों ने प्रेमी युगल के नहीं मानने पर लड़की के परिवार जनों ने लड़की को प्रेमी के चंगुल से छुड़ाकर प्रेमी को जमकर पीटा।


क़रीब दो माह बीतने के बाद लड़की के घर वाले नहीं माने तो गुरुवार की रात प्रेमी ने हाथ को ब्लेड से काटकर और प्रेमिका ने जहर खाकर आत्महत्या की कोशिश की प्रेमी का राजातालाब के एक नीजी हास्पिटल में इलाज चल रहा है, वही प्रेमी ने वीडियो जारी कर बताया कि मेरी पत्नी को उसके परिजन उसकी हत्या कर देंगे, हालाँकि प्रेमिका का कुछ पता नहीं चल रहा है। 

लड़की के परिजनों ने अपनी बेटी को युवक से मिलने पर रोक लगा दिया। बात नहीं बनने पर उन्होंने बेटी को घर में कैद कर लिया।

लंबे समय तक प्रेमिका से बात नहीं कर पाने से परेशान युवक अपनी गुहार लेकर शनिवार को प्रेमी तहसील राजातालाब में पहुंच गया। उपजिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी सदर और राजातालाब थानाध्यक्ष भी लड़के की बात सुनकर हैरान रह गए। उन्होंने उसे समझाने की कोशिश की। पर प्यार की धुन जब सवार हो तो कोई ओर राग पसंद नहीं आती। लड़के ने बताया कि प्रेमिका के घरवालों ने उसे घर में कैद कर रखा है। हम दोनों के मोबाइल भी छिन लिया है। बेहद परेशान युवक प्रेमिका से नहीं मिलने पर जान देने की बात कहने लगा।


जिसकी सूचना मिलने पर युवक के घर वाले भी एसडीएम दफ़्तर पहुँच गए। सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार गुप्ता ने परिजनों को समझाया कि युवक—युवती दोनों ही कानूनी रूप से बालिग है इनके मामले में दखलअंदाजी करना अब ठीक नहीं है। आगे से प्यार करने वालों को परेशान करने पर उन्होंने एफआईआर दर्ज कर कानूनी कार्रवाई करने की बात भी कही। इसके बाद जाकर मामला कुछ शांत हुआ। हर तरफ इस प्रेमकहानी की चर्चा हो रही है।

राजकुमार गुप्ता,

वाराणसी

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner