Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

कानपुर,स्मार्ट जोड़ा वही, जो प्लान करे सही बिधनू ब्लॉक के तीन उपकेंद्रों पर हुआ पहला ‘मिस्टर स्मार्ट सम्मेलन’.

post

कानपुर,स्मार्ट जोड़ा वही, जो प्लान करे सही बिधनू ब्लॉक के तीन उपकेंद्रों पर हुआ पहला ‘मिस्टर स्मार्ट सम्मेलन’


पायलट प्रोजेक्ट के रूप में मण्डल के कानपुर जिले से बिधनू को चुना गया


कानपुर नगर 8 जुलाई 2022 – 


परिवार नियोजन कार्यक्रम में पुरुषों की सहभागिता व जिम्मेदारी सुनिश्चित करने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने खास पहल शुरू की है। शुक्रवार को शम्भुआ, मरदानपुर व बिधनू स्वास्थ्य उपकेंद्र पर पहला ‘मिस्टर स्मार्ट सम्मेलन’ हुआ। इसमें सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले पुरुषों को ‘मिस्टर स्मार्ट’ चुना गया।

मंडल के कानपुर जिले के बिधनू ब्लॉक को परिवार नियोजन कार्यक्रम के अन्तर्गत मिस्टर स्मार्ट सम्मेलन के लिए पायलट प्रोजेक्ट के रूप में चुना गया है। संचालन एनएचएम व सिप्सा के तत्वावधान में हुआ। यहां सभी उपकेंद्रों के एएनएम, सीएचओ, आशा व आंगनबाड़ी कार्यकत्री मौजूद रहीं। कार्यक्रम में परिवार नियोजन में पुरुषों की भागीदारी पर चर्चा की गई।


उल्लेखनीय है कि प्रदेश के सभी मंडलों के प्रमुख एक-एक जनपद के एक-एक ब्लॉक को सिप्सा के तत्वावधान में पायलट के रूप में लिया गया है। चिन्हित ब्लॉक से कुछ स्वास्थ्य उपकेंद्रों को चुना गया है जहां मिस्टर स्मार्ट सम्मेलन का आयोजन कर ‘मिस्टर स्मार्ट’ को चुना जाना है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बिधनू के चिकित्सा अधीक्षक डॉ एसपी यादव ने बताया कि कानपुर जनपद से बिधनू ब्लॉक को चुना गया है। यहां परिवार नियोजन की स्थाई एवं अस्थाई साधनों की सुविधा एवं उपलब्धता बेहतर स्थिति में है। सरकार की ओर से परिवार नियोजन के लिये विभिन्न साधन निःशुल्क मुहैया कराये जा रहे हैं। 


उन्होने बताया कि तीनों केंद्रों के सम्मेलन में करीब 50 जोड़ों के साथ परिवार नियोजन से जुड़ी जनजागरूकता गतिविधियां आयोजित की गईं, जिसमें सभी गतिविधियों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर बिधनू स्वास्थ्य उपकेंद्र में दशरथ, शम्भुआ में जयशंकर और मरदानपुर में मो. जावेद को मिस्टर स्मार्ट बनाकर प्रथम पुरस्कार दिया गया। इसके साथ ही मो. साजिद , गुड्डू निषाद और राजू को द्वितीय व रामकलाखन, पवन और दिलीप कुमार को तृतीय पुरस्कार दिया गया।  ग्राम प्रधान की ओर से पुरस्कार वितरण का कार्य किया गया।   


इस मौके पर मरदानपुर स्वास्थ्य उपकेंद्र में प्रथम पुरस्कार करने वाले मो. जावेद ने कहा कि उनके दो बच्चे हैं। दोनों बच्चों में तीन साल अंतर है और अब उन्हें तीसरे बच्चे की चाह नहीं है। उन्होने कहा – हमने पत्नी का पूरा साथ दिया है और आगे भी देते रहेंगे। 


ब्लॉक बिधनू की बीसीपीएम प्रिया वर्मा ने स्थाई साधन (महिला व पुरुष नसबंदी) तथा अस्थाई साधन (अंतरा, छाया, आईयूसीडी, पीपीआईयूसीडी, ईसीपी, कंडोम आदि) यानि बास्केट ऑफ च्वाइस के बारे में लाभार्थियों को विस्तार से जानकारी दी। उन्होने कहा कि स्वस्थ व खुशहाल परिवार के लिए परिवार नियोजन की भूमिका काफी महत्वपूर्ण है। इस दौरान परिवार नियोजन सलाहकार अंजलि और हेल्थ सुपरवाइजर नरेंद्र भी उपस्तिथ रहे।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner