Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

सीतापुर, जनपद मनाया गया राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस.

post

सीतापुर, जनपद मनाया गया राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस

- एक से 19 साल तक के 21.50 लाख बच्चों और किशोर-किशोरियों को खिलाई जाएगी पेट के कीड़े निकालने की दवा 


सीतापुर, 19 जुलाई 2022।

बच्चों और किशोरों के पेट के  कीड़ों को निकालने के लिए आज (20 जुलाई) राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस मनाया जायेगा।इसके तहत जिले भर के एक से 19 साल तक के 21.50 लाख बच्चों व किशोर-किशोरियों को कृमि संक्रमण से बचाने के लिए एल्बेंडाजोल दवा खिलाई जाएगी। इसके जरिये बच्चों को पेट के कीड़ों से मुक्ति मिल सकेगी।  इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने पूरी तरह तैयार हैं। 

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. मधु गैरोला ने बताया कि राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस साल में दो बार मनाया जाता है। इसके तहत एक वर्ष की उम्र से 19 साल की उम्र तक के बच्चों व किशोर-किशोरियों को पेट के कीड़ों की वजह से होने वाले संक्रमण से बचाने के लिए,  उन्हें एल्बेंडाजोल दवा खिलाई जाती है। आज पूरे जिले में अभियान चलाकर बच्चों को एल्बेंडाजोल दवा खिलाई जाएगी और जो बच्चे छूट जाएंगे उनके लिए 25 से 27 जुलाई के बीच माप अप राउंड के दौरान पेट के कीड़ों की दवा खिलाई जाएगी।

*इनसेट---*

*क्या कहते हैं अधिकारी---*

राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम (आरकेएसके) के नोडल अधिकारी डॉ. उदय प्रताप ने बताया कि आंगनबाड़ी केंद्रों पर एक से 5 साल तक के पंजीकृत सभी बच्चों को, 6 से 19 साल तक के स्कूल न जाने वाले व ईट भट्ठे पर काम करने वाले और घुमंतू जनजातियों के बच्चों को आंगनबाड़ी कार्यकर्ती द्वारा दवा खिलाई जाएगी। छह से 19 साल तक के स्कूल जाने वाले छात्र छात्राओं को, जिनमें सरकारी, प्राइवेट व अर्ध सरकारी स्कूलों, मदरसों के शिक्षक बच्चों को एल्बेंडाजोल गोली खिलाएंगे।

*इनसेट ---*

*ऐसे खानी है दवा ---*

आरकेएसके के सलाहकार शिवकांत ने बताया कि पेट के कीड़ों को निकालने के लिए टेबलेट एल्बेंडाजोल को चबाकर खाना है। यदि चबाकर नहीं खा सकते तो उसको पीसकर या चुरा बनाकर बच्चों को खिलाएं, ताकि बच्चों को कृमि संक्रमण से बचाया जा सके। उन्होंने बताया कि 1 से 2 साल तक के बच्चों को एल्बेंडाजोल की आधी गोली और 2 साल से 19 साल तक के बच्चों को पूरी गोली खिलानी है।

*इनसेट ---*

*कोविड-19 प्रोटोकॉल हो पूरा पालन ---*

डीईआईसी मैनेजर डॉ. सीमा कसौधन ने बताया कि राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस को लेकर कोविड-19 प्रोटोकॉल का पूरा पालन कराया जाना चाहिए। उन्होंने कहा इस अभियान में किसी तरह की लापरवाही नहीं होनी चाहिए। कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस को संपन्न बनाएं।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner