Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

शाहजहाँपुर,क्षेत्र पंचायत कलान में क्षेत्र पंचायत से नहीं लगी लाइटेंःराम किशोर.

post

शाहजहाँपुर,क्षेत्र पंचायत कलान में क्षेत्र पंचायत से नहीं लगी लाइटेंःराम किशोर

कलान-शाहजहांपुर

(स्वतंत्र खबर) 

दिनेश मिश्रा

खंड विकास अधिकारी कलान रामकिशोर ने बताया क्षेत्र पंचायत में क्षेत्र पंचायत निधि से लाइट नहीं लगाई गई हैं।

ज्ञात हो कि एक समाचार पत्र ने जनपद सहित तहसील कलान की दोनों ब्लॉक मिर्जापुर और कलान में लगभग सभी ग्राम पंचायतों में ग्राम निधि और क्षेत्र पंचायत की क्षेत्र पंचायत निधि से लगवाई गई स्ट्रीट लाइट में लाखों के घोटाले का समाचार प्रकाशित किया था जिसमें समाचार पत्र ने अपने प्रकाशन में दिखाया कि लाइट किसी कंपनी की और लेबल किसी दूसरी कंपनी का लगा कर 3 हजार 8 सौ प्रति लाइट के हिसाब से भुगतान करा लिया गया। वहीं

अधिकारियो के पास जब आम जनता ने शिकायत की तो सम्बन्धित अधिकारी मामले को टालने में लग गए। कलान और मिर्जापुर ब्लॉक की 100 से ज्यादा ग्राम पंचायतों (पिलुआ, ढका, जहानाबाद खमरिया, पृथ्वीपर

कुबेरपुर, दसिया, हरेली, लखनपुर, खजुरी, कौमी, अस्तोली, मलेवा, सिउड़ी, कबरा सलेमपुर, मिर्जापुर, टड़ई, दमुलिया, सिंगहा युसुफपुर, सथरी, परौर, कुंड़रिया, बम्हौरा, बम्हनी चौकी, एत्मादपुर चक, हेतमपुर, नौगंवा मुबारिकपुर, जैसी दर्जनों ग्राम पंचायतों में करीब 15000 लाइट्स लग चुकी हैं। सरकार द्वारा पास जी ओ में दुनिया के 8 ब्रांड्स के साथ डे नाइट सेंसर वाली लाइट ही केवल खम्भों पर लगवाई जाएंगी, लेकिन जिन ग्राम पंचायतों में अब तक लाइट्स लगवाई गई है वह ओरिएंट, हैवेल्स, क्रोम्पटन, पैनासोनिक की कॉपी है। साथ ही बिना सेंसर की डुप्लीकेट लाइट लगने से पूरे दिन जलती रहती है जिससे उसकी बर्निंग ऑवर कम हो जाते है और खंभे पर लगने के कुछ महीनों बाद ही कबाड़ बनकर लटकी रह जाती है। सरकार प्रति लाइट पर रुपये 3800 से लेकर 3900 खर्च कर रही है लेकिन एक मैनुफैक्चरर से बात करने पर पता चला कि जो लाइट्स ठेकेदारों द्वारा लगवाई हैं वह सब दिल्ली गाजियाबाद नोएडा में बनी हुई है जिनकी कीमत 750 से लेकर 800 रुपये है । जबकि क्षेत्र पंचायत में क्षेत्र पंचायत निधि से कोई लाइटें नहीं लगाई गई। वही इस संबंध में जब खंड विकास अधिकारी कलान रामकिशोर से बात की गई उन्होंने बताया समाचार पत्र में छपी खबर गलत एवं भ्रामक है क्षेत्र पंचायत में क्षेत्र पंचायत निधि से कोई लाइटें नहीं लगाई गयीं है।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner