Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

शाहजहाँपुर,जनता की समस्याओं का समाधान कराने की जगह ग्रामीणों से अभद्रता करते दिखे विधायक.

post

शाहजहाँपुर,जनता की समस्याओं का समाधान कराने की जगह ग्रामीणों से अभद्रता करते दिखे विधायक


ग्रामीण से अभद्रता का वीडियो हुआ वायरल


विधायक ने पुलिस पर दबाब बनाकर पत्रकार को फर्जी केस में फंसाने को रचा षड्यंत्र


दिनेश मिश्रा

शाहजहांपुर/जलालाबाद

हम विधायक हैं किसी से कुछ भी कह सकते हैं।यह बात जलालाबाद विधायक हरिप्रकाश वर्मा पर सटीक बैठती है। अगर ग्रामीण ने विधायक के सामने समस्या रखी तो वो नाराज भी हो सकते है। जब एक युवक ने बिजली की समस्या विधायक के सामने रखी तो उनका पारा हाई हो गया। विधायक ने उस ग्रामीण को जमकर हड़का दिया। जिसका वीडियो पत्रकार ने बनाकर सोशल मीडिया पर बायरल दिया। जिससे विधायक पत्रकार पर भी नाराज हो गए और पुलिस से कहकर उस पत्रकार को थाने बुलवा लिया। थानाध्यक्ष के आने पर जांच हुई तो पता चला कि पत्रकार का कोई कसूर नहीं है।विधायक द्वारा लगाए गए आरोप गलत साबित हुए।

ज्ञात हो कि जलालाबाद विधानसभा से विधायक जब अपनी विधानसभा क्षेत्र के सिकन्दरपुर गांव के स्कूल में ध्वजारोहण करने पहुंचे। तो ग्रामीणों ने उन्हें बिजली कटौती की समस्या को सामने रखते हुए ग्रामीणों ने उन्हें घेर लिया। पब्लिक हो हल्ला करने लगी कि उन्हें लाइट से मतलब उन्हें लाइट चाहिए।इतने में एक ग्रामीण ने कहा कि विधायक जी लाइट अब इतनी भी नही आती कि मोबाइल चार्ज हो जाये। इतनी बात पर विधायक का पारा हाई हो गया और ग्रामीण की समस्या का समाधान करने की जगह विधायक उससे अभद्रता करते हुए उसे उंगली दिखाते हुए कहने लगते है। हटहटहट भक-भक चुप-चुप। यह सब घटना एक पत्रकार ने अपने कैमरे में कैद कर ली। जिससे वह पत्रकार पर आक्रोशित हो गए और सीधे पुलिस से फोन करके पत्रकार को अपराधी बताकर उसे गिरफ्तार करने का निर्देश देते है। 

बॉक्स-

*विधायक पर भारी पड़ा पत्रकार*


आनन फानन में पुलिस भी विधायक के फोन पर हरकत में आ गई और पत्रकार को थाने लायी।लेकिन जब थानाध्यक्ष जयशंकर सिंह ने थाने पहुंचकर जांच पड़ताल की तो विधायक द्वारा लगाए गए आरोप असत्य एवं निराधार पाए गये।जिससे पुलिस ने पत्रकार को बिना किसी कार्रवाई के छोड़ दिया। इस पूरे घटनाक्रम पर नजर डाली जाए तो कुल मिलाकर पत्रकार विधायक पर भारी पड़ा है।


उधर जब इस संबंध में जलालाबाद के थाना प्रभारी जय शंकर सिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया कि विधायक जी द्वारा एसपी साहब को फोन कर यह शिकायत की गई कि उनकी सभा में पत्रकार द्वारा धमकी दी गई तथा अभद्रता की गई है।उन्होंने कहा कि पत्रकार को पूछताछ के लिए थाने बुलाया गया था।पकड़कर लाने वाली बात गलत है। पत्रकार पर जांच मे लगाए गए आरोप गलत पाए गए। इसलिए पत्रकार को बाइज्जत थाने से जाने दिया गया।

वहीं जब इस संबंध में जलालाबाद के विधायक हरि प्रकाश वर्मा से बात की गई तो उन्होंने बताया कि मैंने किसी भी पुलिस कर्मी को 15 दिन से फोन नहीं किया।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner